हरियाणा, दिल्ली-यूपी बार्डर पर मिली सॉफ्टवेयर हैंग करके एटीएम से रुपये निकालने वालों की लोकेशन

टैकनोलजी ब्रेकिंग न्यूज़ विशेष सोनीपत

रियाणा के मेवात में एटीएम का साफ्टवेयर हैंग करके मशीन से नकदी उड़ाने वाले गिरोह के सात सदस्यों की लोकेशन पुलिस को मिल गई है। जल्द ही टीमें उन्हें पकड़ने के लिए रवाना होगी। कानपुर एसपी साउथ की सर्विलांस टीम द्वारा पकड़े गए दो शातिरों से पूछताछ में गिरोह के बाबत अहम सुराग मिले हैं। सीडीआर से मिले मोबाइल नंबरों से सर्विलांस टीम ने दिल्ली में एक्टिव लोकेशन ट्रेस की है। सभी की लोकेशन हरियाणा-दिल्ली, दिल्ली-यूपी बार्डर के आसपास मिली है।

कानपुर शहर में गोविंद नगर, नजीराबाद, चकेरी क्षेत्र में विभिन्न बैंकों के एटीएम से लाखों की नकदी चोरी हुई थी। इस कड़ी में गोविंद नगर की पंजाब एंड सिंध बैक शाखा प्रबंधक ने अज्ञात शातिरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। छानबीन के दौरान पुलिस टीम को सीसीटीवी फुटेज भी मिले थे। एसपी साउथ की सर्विलांस टीम ने टावर डाटा और लोकेशन आदि ट्रेस की तो मेवात से प्रशिक्षण प्राप्त यूपी वाले गैंग का हाथ होना सामने आया था। इस पर टीम ने दोनों को गुजैनी क्षेत्र में पकड़ा था। थाने लाकर पूछताछ की गई तो दोनों ने अपना नाम नगला मेवाती ताजगंज आगरा निवासी नदीम और वसीम बताया था।

पूछताछ में सामने आया था कि पिता शमीम ट्रक ड्राइवर हैं। दोनों भाई ताजगंज में रेडीमेड कपड़ों की दुकान चलाते हैं। कपड़ों की खरीद के सिलसिले में दिल्ली जाना होता था। जल्द रुपया कमाने की चाहत में दोनों भाई एक मेवाती गैंग के सदस्य से मिले थे। जिसके बाद दोनों भाइयों ने वहीं ट्रेनिंग लेने के बाद ही दिल्ली के गैंग से जुड़कर काम शुरू किया था। विवाद के बाद दोनों भाइयों ने यूपी वाला गैंग तैयार किया था। हालांकि पुलिस आरोपितों के पास से कुछ बरामदगी नहीं कर पाई थी।

छानबीन में एटीएम से चोरी की गई दस लाख से अधिक की नकदी से क्रेटा गाड़ी खरीदने की जानकारी हुई थी। चाबी न मिलने के कारण पुलिस कार बरामदगी नहीं कर सकी थी। एसपी साउथ दीपक भूकर ने बताया कि आरोपितों की सीडीआर के आधार पर कई नंबर संदिग्ध मिले थे। ट्रेस करने पर दिल्ली गिरोह के सात सदस्यों के बारे में जानकारी हुई। पुलिस टीम ने अब उन सात आरोपितों की धर पकड़ के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं।

हरियाणा-दिल्ली, दिल्ली यूपी बार्डर पर है लोकेशनएसपी साउथ ने बताया कि सात नंबरों की हरियाणा-दिल्ली और दिल्ली-यूपी बार्डर पर होने की बात सामने आयी है। आरोपितों की धर पकड़ के लिए हरियाणा और गाजियाबाद पुलिस से संपर्क साधा गया है। जल्द ही आरोपितों की धर पकड़ के लिए टीम गाजियाबाद और हरियाणा के लिए रवाना की जाएगी।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *