आंदोलनस्थल पर मनाई छोटूराम की जयंती, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

कुंडली दिल्ली एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति सोनीपत

सोनीपत : कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे आंदोलन में मंगलवार को धरनास्थल पर सर छोटूराम की जयंती मनाई गई। आंदोलन के मुख्य मंच पर किसान संगठनों के नेता व खाप प्रतिनिधियों ने उन्हें याद किया और मंच पर पर लगाए गए उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा कि जो कानून सर छोटूराम ने रद कराए थे, यह उसी तरह का कानून है। इसलिए इसका विरोध हो रहा है।

खाप प्रतिनिधियों ने छोटूराम को याद करते हुए कहा कि उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ, कृषक समुदाय का उचित मार्गदर्शन किया था। ब्रिटिश सरकार में किसान हितों के लिए 22 महत्वपूर्ण कानून पारित कराए। किसानों को शोषणकारी साहूकारों के चंगुल से मुक्त कराया। आंतिल खाप चौबीसी ने जयंती पर कुंडली बार्डर पर चल रहे किसानों के धरने पर पहुंचकर उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करते हुए उन्हें याद किया। इस दौरान आंतिल बारहा खाप एवं दिपालपुर के प्रधान जयभगवान आंतिल ने कहा कि चौधरी छोटूराम किसानों के मसीहा थे। उन्होंने हमेशा से ही किसानों के हक की बात कही है। इस दौरान आंतिल चौबीसी खाप के प्रधान हवासिंह आंतिल और भाकियू नेता शमशेर सिंह दहिया ने भी चौधरी छोटूराम की जीवन के प्रति वहां उपस्थित लोगों को प्रेरित किया। इस अवसर पर हरिप्रकाश असावरपुर, मास्टर सुरेश खेवड़ा, लक्ष्मीनारायण दिपालपुर, बिजेंद्र आंतिल बड़ौली, सूबे सिंह व रामसिंह आदि मौजूद थे। दूसरी ओर, किसान संगठन के नेताओं ने इस दौरान प्रदेश के कैबिनेट मंत्री जेपी दलाल और अनिल विज के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्हें मंत्रिमंडल से तत्काल बर्खास्त करने की मांग भी की। मंच से संबोधित करने वालों में मुख्य रूप से संयुक्त किसान मोर्चा के डा. दर्शनपाल, जगजीत सिंह दल्लेवाल आदि शामिल थे।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *