sonipat-10th-exam-result

10वीं के सभी 20,889 विद्यार्थी पास

ब्रेकिंग न्यूज़ शिक्षा सोनीपत

सोनीपत : हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा शुक्रवार को 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया। जिले में इस बार बिना परीक्षा दिए 20,889 विद्यार्थी पास हुए हैं। इनमें 19 हजार 972 विद्यार्थी रेगुलर और 917 प्राइवेट विद्यार्थी शामिल हैं। बिना परीक्षा हुए जारी किए गए इस परिणाम में कोई फेल नहीं हुआ तो कोई टापर भी नहीं है।

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण विद्यार्थियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हरियाणा शिक्षा बोर्ड और सीबीएसई ने अप्रैल में होने वाली 10वीं व 12वीं कक्षा की परीक्षा रद कर दी थी। हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर 10वीं कक्षा का परिणाम जारी करने का फैसला लेते हुए स्कूल स्तर पर सात सदस्यीय कमेटी का गठन किया। स्कूलों द्वारा उपलब्ध करवाए गए रिकार्ड के आधार पर ही शुक्रवार को 10वीं कक्षा का परिणाम घोषित किया गया। शिक्षा अधिकारियों ने बताया कि वार्षिक परीक्षा मार्च-2021 के लिए जिन परीक्षार्थियों द्वारा आंशिक विषय अंक सुधार, पूर्ण विषय अंक सुधार एवं अतिरिक्त विषय के लिए आवेदन किया गया था, उन्हें बोर्ड की ओर से जब भी आगामी परीक्षा आयोजित करवाई जाएगी, उस आवेदन के आधार पर बिना शुल्क के परीक्षा देने की अनुमति दी जाएगी।

इस परीक्षा परिणाम से प्रतिभाशाली बच्चों को यह पता नहीं चल पाया कि वे प्रतिस्पर्धा में कहां खड़े हैं। अच्छे बच्चे प्रतिस्पर्धा में हमेशा खुद को साबित करके दिखाना चाहते हैं। हो सकता है कि अच्छे बच्चों को शत प्रतिशत अंक नहीं मिलते लेकिन परीक्षा से उन्हें खुद को परखने का अवसर मिलता। अच्छे बच्चे हमेशा राज्य व जिला स्तर पर रैंक चाहते हैं। इस परिणाम से ऐसा नहीं हो पाया। कोरोना महामारी के चलते जीवन बचाना जरूरी है। सरकार व बोर्ड सोच समझ कर फैसला लिया है, जिस पर कोई आपत्ति नहीं है।

– डा. सचिन शर्मा, प्राचार्य, जवाहरलाल नेहरू वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय गोहाना

विद्यार्थियों की प्रतिभा का मूल्यांकन परीक्षा से होता है। इस बार परीक्षा नहीं हुई। परीक्षा में बेशक पूरे नंबर आ गए हैं, लेकिन यह पता नहीं चल पाया कि मैं अपने जिले और राज्य में कहां खड़ी हूं। कुछ बच्चे विद्यालय स्तर की कक्षाओं में पहले तीन स्थानों पर रहते हैं। बोर्ड की परीक्षाओं से ही पता चलता है कि अच्छे बच्चे खंड, तहसील, जिला और राज्य में किस पायदान पर हैं।

अनुष्का, छात्रा

मेरे अंक शत-प्रतिशत जरूर आए हैं, लेकिन बिना परीक्षा के यह पता नहीं चल पाया कि मैंने किस स्तर की तैयारी की थी। बिना परीक्षा के खुद को परखने का अवसर नहीं मिला। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में हालात खराब थे। बच्चों का साल खराब न हो, इसी को ध्यान में रख कर सरकार ने रास्ता निकाला है।

आकांक्षा, छात्रा

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा शुक्रवार को 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया। जिले का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा है। बोर्ड द्वारा जारी परिणाम से अगर कोई विद्यार्थी संतुष्ट नहीं है तो वह दोबारा परीक्षा दे सकता है। ऐसे विद्यार्थियों के लिए स्थिति सामान्य होने पर परीक्षा आयोजित करवाई जाएगी।

– बिजेंद्र नरवाल, जिला शिक्षा अधिकारी, सोनीपत

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *