shooting of 600 songs stopped in lockdown started haryana started swinging

हरियाणी म्यूजिक इंडस्ट्री:लॉकडाउन में रुके 600 गीतों की शूटिंग शुरू, झूमने लगा हरियाणा

मनोरंजन विशेष सोनीपत

लॉकडाउन के बीच हरियाणवी पॉप संगीत इंडस्ट्री को बड़ा तोहफा मिला है। 2 अक्टूबर को रिलीज हुए 52 गज का दामण गीत 8 माह में ही 1 अरब बार देखा गया है। यह देश का पहला गीत है, जो इतने कम समय में इतनी ज्यादा बार दिखा गया। इससे पहले सलमान खान अभिनीत स्वैग से करेंगे सबका स्वागत गीत 18 माह में एक अरब बार देखा गया था।

हरियाणवी कलाकार, गायक, संगीतकार, लेखक, निर्देशक और इंडस्ट्री से जुड़े लोग इसमें नया भविष्य देख रहे हैं। खुशी आपस में बांट रहे हैं। मुंबई, पंजाब की बड़ी-बड़ी म्यूजिक कंपनियों का रुझान हरियाणवी गीत इंडस्ट्री की तरफ और बढ़ेगा। लॉकडाउन में छूट मिलने के साथ हरियाणवी पॉप संगीत इंडस्ट्रीज अब फिर अपनी रंगत में लौट रही है। लॉकडाउन की वजह से 600 से अधिक गीतों की शूटिंग रुक गई थी। करीब 9 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ है। 10 हजार से अधिक कलाकार फिर से मनोरंजन के लिए तैयार हैं।

सोनीपत के गांव जाजी के मुकेश जाजी दुर्घटना में दोनों पैर गंवा चुके हैं। इसके बाद हरियाणवी गीत लिखने शुरू किए। उनके गीत लगातार हिट हो रहे हैं। 52 गज का दामण गीत मुकेश जाजी ने लिखा और अमन जाजी ने इसमें अभिनय किया है। रेणुका पंवार ने गाया है।

लॉकडाउन में हरियाणवी पॉप संगीत इंडस्ट्री का 9 करोड़ का कारोबार प्रभावित, गीत इंडस्ट्री के लिए अच्छे संकेत

6 लाख तक आ रहा गीत पर खर्च

प्रदेश में 10 हजार लोग हरियाणवी संगीत इंडस्ट्री से जुड़े हैं। 50 हजार से लेकर 6 लाख रुपए तक लागत में गीत बन रहे हैं। कंपनी गीतों को लाखों में खरीदकर करोड़ों रुपए कमा रही हैं।

हरियाणवी टॉप वीडियो व्यूज गीत

52 गज का दामण गीत हरियाणा का पहला ऐसा गीत है जो 1 अरब बार देखा गया है। गीत सैंडल 64 करोड़, बहू काले की 60 करोड़, मोटो के 55 करोड़, कोको कोलो 55 करोड़ बार यू-ट्यूब पर देखा जा चुका है।

कंपनी खरीदने लगी गीत

बड़ी म्यूजिक कंपनियों ने हरियाणवी गीत रिलीज खरीदकर रिलीज करने शुरू किए हैं। नया लुक देने के लिए महंगी लोकेशन बनने लगी हैं। अब वे शूटिंग में इस्तेमाल होने लगी हैं। ये 26 से 30 हजार किराए पर मिलती हैं।

18 साल की उम्र में ही इतना प्यार लोगों से मिलना उनके लिए बड़ी खुशी है। यह सब लोगों के आशीर्वाद व स्नेह से हुआ है। मेहनत कर हरियाणवी संगीत को नई ऊंचाई तक लेकर जाएंगे।
-रेणुका पंवार, गायक

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *