राहत की सांसे:14 टन से ढाई टन पर आई ऑक्सीजन खपत, 1076 को घरों में पहुंचाए सिलेंडर

ब्रेकिंग न्यूज़ सोनीपत स्वास्थ्य

कोरोना मई में पीक पर था। इस दौरान सोनीपत में 14 टन हर दिन की ऑक्सीजन खपत हुई। यह अब ढाई टन की रह गई है। अब ऑक्सीजन खपत 25 से 30 प्रतिशत तक रह गई है। मेडिकल काॅलेज खानपुर में हर दिन डेढ़ टन की खपत हो रही है। पहले यहां 6 टन तक पहुंच गई थी। एक टन खपत जिले के अन्य अस्पतालों में हो रही है।

सिविल अस्पताल में एक हजार एलपीएम का एक और ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए स्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या में कमी आने के साथ ऑक्सीजन की जरूरत भी कम हुई है। पानीपत से अब गैस मिलने की दिक्कत भी नहीं रही है। दिव्या एयर प्रोडेक्ट संचालक राजबीर दहिया का कहना है कि ऑक्सीजन खपत अब अन्य दिनों की तरह औसत पर आ गई है।

नए प्लांट देंगे भविष्य में राहत

सोनीपत अस्पताल में 280 एलपीएम का पीएसए प्लांट लग चुका है। अब एक हजार एलपीएम​​​​​​​ क्षमता का नया प्लांट लगेगा। इसका स्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। मेडिकल कॉलेज खानपुर में 1-1 हजार एलपीएम क्षमता के दो प्लांट लगने हैं, जिसमें एक लग गया है। इस प्लांट की ऑक्सीजन प्योरिटी लेवल सुधारने का काम हो रहा है।

रेडक्रॉस टीम घरों में पहुंचा रही ऑक्सीजन सिलेंडर

​​​​​​​होम आइसोलेट मरीजों को रेडक्रॉस टीम ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचा रही है। इसके लिए पोर्टल WWW.OXYGENHRY.IN पर डिमांड देनी होती है। 7 जून तक जिले में 1445 आवेदन मिले हैं। इनमें जरूरत के अनुसार 1076 सिलेंडर दिए गए। 7 जून को 18 मरीजों को सिलेंडर उपलब्ध करवाए गए हैं।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *