mobile internet service stopped in 17 districts of haryana

हरियाणा के इन 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, सिर्फ कॉलिंग की इजाजत

कुंडली दिल्ली एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ सोनीपत

नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ पिछले करीब 2 महीनों से हजारों की संख्या में किसान सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर प्रदर्शन कर रहे हैं. लेकिन गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा (Tractor Parade Violence) के बाद आज दिल्ली-हरियाणा सीमा पर हालात तनावपूर्ण हो गए हैं. इसी के चलते हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा जिलों में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी, 2021 शाम 5 बजे तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया है. सोनीपत, पलवल व झज्जर में पहले ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई है.

सड़क खाली कराने को लेकर हुआ बवाल

सड़क खाली कराने को लेकर हुआ बवाल

दरअसल, खुद को स्थानीय नागरिक बता रहे ग्रामीणों का एक बड़ा समूह प्रदर्शनकारी किसानों से जगह खाली कराने की मांग को लेकर भिड़ गया. चश्मदीदों ने भीड़ को पत्थर, लाठियों, तलवारों से लैस देखा. इसके बाद स्थिति पर नियंत्रण करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करते हुए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. इस बवाल के बीच एक व्यक्ति ने दिल्ली पुलिस के अलीपुर थाना प्रभारी (SHO) प्रदीप पालीवाल पर तलवार से हमला कर दिया, जिसके बाद वह घायल हो गए.

सोनीपत में जारी है महापंचायत

काफी समय बाद पुलिस ने हंगामें को शांत कराया. जिसके बाद हरियाणा के सोनीपत में 40 गावों की महापंचायत शुरू हो गई. महापंचायत में सिंघु बॉर्डर को खाली कराने पर चर्चा चल रही है. वहीं पंजाब के रहने वाले हरकीरत मान बेनीवाल (21) ने कहा, ‘वे स्थानीय लोग नहीं हैं, बल्कि भाड़े पर बुलाए गए गुंडे हैं. वे लोग हम पर पथराव कर रहे थे और पेट्रोल बम फेंक रहे थे. उन्होंने हमारी ट्रॉली भी जलाने की कोशिश की. हम उनका प्रतिरोध करने के लिए यहां हैं.’

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *