singhu border

Farmers Protest: किसान मनाएंगे ‘पगड़ी संभाल दिवस’, कृषि मंत्री के खिलाफ 23 फरवरी को महापंचायत

कुंडली दिल्ली एनसीआर राजनीति सोनीपत

संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐलान किया कि प्रदेश के कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल का हर स्तर पर विरोध किया जाएगा। किसानाें के आत्मसम्मान काे चोट पहुंचाने वाले कृषि मंत्री का वैसे तो अलग-अलग जगहों पर विरोध हो रहा है, लेकिन 23 फरवरी काे पगड़ी संभाल दिवस पर भिवानी में उनके खिलाफ एक महापंचायत आयोजित की जाएगी। दूसरी ओर, कृषि कानून विरोधी आंदोलन में शामिल पंजाब के 32 किसान जत्थेबंदियों ने शनिवार को बैठक कर अगली रणनीति तय की। बैठक देर रात तक जारी रही और किसान नेताओं ने फिलहाल बैठक में लिए गए निर्णय के संबंध में कुछ नहीं बताया।

कृषि कानून के विरोध में चल रहे आंदोलन को तेज करने व बातचीत के लिए सरकार पर दबाव बनाने के लिए शनिवार को पंजाब के 32 किसान जत्थेबंदियों ने बैठक की। बैठक में मुख्य रूप से किसान नेता डा. दर्शनपाल, बलदेव सिंह सिरसा, जगजीत सिंह दल्लेवाल सहित आंदोलन में शामिल पंजाब के सभी किसान नेता शामिल थे। दोपहर बाद करीब दो बजे शुरू हुई और देर रात तक जारी रही। बैठक में शामिल किसान नेताओं ने बताया कि आंदोलन की अगली रणनीति को लेकर सभी किसान जत्थेबंदियों के सुझावों पर विमर्श किया जा रहा है। इस सुझाव को संयुक्त मोर्चा और फिर कोर कमेटी के सदस्यों के बीच रखा जाएगा। इसके बाद इस पर अंतिम मुहर लगेगी। यह भी बताया जा रहा है कि प्रस्तावित संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक नहीं हो पाने के कारण भी आंदोलन को लेकर अगली रणनीति पर कोई निर्णय फिलहाल नहीं हो पाया।

कृषि कानून के विरोध में चल रहे आंदोलन को तेज करने व बातचीत के लिए सरकार पर दबाव बनाने के लिए शनिवार को पंजाब के 32 किसान जत्थेबंदियों ने बैठक की। बैठक में मुख्य रूप से किसान नेता डा. दर्शनपाल, बलदेव सिंह सिरसा, जगजीत सिंह दल्लेवाल सहित आंदोलन में शामिल पंजाब के सभी किसान नेता शामिल थे। दोपहर बाद करीब दो बजे शुरू हुई और देर रात तक जारी रही। बैठक में शामिल किसान नेताओं ने बताया कि आंदोलन की अगली रणनीति को लेकर सभी किसान जत्थेबंदियों के सुझावों पर विमर्श किया जा रहा है। इस सुझाव को संयुक्त मोर्चा और फिर कोर कमेटी के सदस्यों के बीच रखा जाएगा। इसके बाद इस पर अंतिम मुहर लगेगी। यह भी बताया जा रहा है कि प्रस्तावित संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक नहीं हो पाने के कारण भी आंदोलन को लेकर अगली रणनीति पर कोई निर्णय फिलहाल नहीं हो पाया।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *