बारिश के साथ गिरे ओले, मंडियों में भीगा गेहूं

गन्नौर गोहाना ब्रेकिंग न्यूज़ मुरथल विशेष सोनीपत

सोनीपत। जिले में शुक्रवार सुबह हुई बारिश के साथ कई जगहों पर ओले गिरे। ऐसे में सोनीपत, गोहाना व खरखौदा की अनाज मंडियों में करीब 4 लाख क्विंटल गेहूं भीग गया। मंडियों व खरीद केंद्रों पर खरीद एजेंसियों की ओर से देरी से गेहूं के बोरों का उठान किया जा रहा है। ऐसे में कई दिन तक उठान नहीं होने के कारण किसानों को गेहूं डालने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, बूंदाबांदी से कई क्षेत्रों में कटाई का कार्य बंद रहा, जिससे किसानों की परेशानी बढ़ती जा रही है।

गोहाना क्षेत्र में शुक्रवार सुबह बारिश से अनाज मंडी में खुले में पड़ा गेहूं अधिकारियों व आढ़तियों प्रयासों के बावजूद भीग गया। इसके अलावा बिजली आपूर्ति ने लोगों की परेशानी बढ़ाई। सुबह करीब 11 बजे बारिश के बाद धूप निकली तो आढ़तियों ने गेहूं के बोरों से तिरपाल उतरवाया और भीगे गेहूं को खुले में फैलाया।

गोहाना की अनाज मंडी में वीरवार शाम तक 10 लाख से अधिक गेहूं बोरे व खुले में पड़ा था। हालांकि मौसम के मद्देनजर अधिकारियों ने आढ़तियों से गेहूं से भरे बोरों का तिरपाल से ढकवा दिया था, लेकिन शुक्रवार सुबह बारिश हुई तो बोरों में भरा गेहूं तो बच गया, लेकिन सड़क पर पड़ा गेहूं भीग गया। दूसरी तरफ गोहाना के जींद रोड पर आश्रम फीडर में बारिश के कारण तकनीकी खराबी हो गई। इससे दिनभर में केवल 10 मिनट ही बिजली आपूर्ति हुई।
खरखौदा मंडी में उठान नहीं होने के कारण भीगा गेहूं
अनाज मंडी खरखौदा में उठान नहीं होने के कारण जहां करीब एक लाख बोरे रखे हुए हैं। इसके साथ ही मंडी परिसर में खुले में भी गेहूं पड़ा है। शुक्रवार को हुई हल्की बरसात में जहां गेहूं को आढ़तियों व मार्केट कमेटी की ओर ढकने का प्रयास किया गया, लेकिन यह गेहूं की आवक ज्यादा होने की वजह से ढकने के बाद तिरपाल कम पड़ गए। ऐसे में मंडी परिसर में गेहूं के बोरों का उठान में तेजी नहीं होने के कारण गेहूं का ढेर लगा हुआ है।
अनाज मंडी में गेहूं के बोरों उठान को लेकर आढ़ती लगातार मांग करते आ रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद मंडी में उठान में तेजी नहीं लाई गई है। शुक्रवार सुबह ओले गिरने के साथ ही बारिश से हजारों क्विंटल गेहूं भीग गया।
मंडियों व खरीद केंद्रों में 3 लाख 58 हजार 768 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद
एडीसी अशोक बंसल ने बताया कि जिले की मंडियों व खरीद केंद्रों में 3 लाख 58 हजार 768 मीट्रिक टन गेहूं की आवक हो चुकी है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा 74 हजार 135 मीट्रिक टन, हैफेड द्वारा 1 लाख 22 हजार 381 मीट्रिक टन, हरियाणा वेयर हाउसिंग द्वारा 35 हजार 453 मीट्रिक टन और भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) की ओर से 1 लाख 26 हजार 799 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है।
बारिश से गेहूं को बचाने के लिए आढ़तियों से पुख्ता इंतजाम किए गए थे। बारिश बंद होने के बाद गोहाना मंडी में दोपहर के समय करीब 67500 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई। इसके साथ ही गेहूं के बोरों का उठान भी करवाया गया। – जितेंद्र श्योराण सचिव, मार्केट कमेटी, गोहाना

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *